सुपौल : एनडीआरएफ टीम ने 20 घण्टे के ऑपरेशन के बाद की मृतक बच्ची का शव बरामद।

0
474
- Advertisement -

अक्षय कुमार (समाचार सहयोगी: एन के शुशील)
कोसी की आस@सुपौल

सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र के लतोना दक्षिण पंचायत के कुशहा घाट पर रविवार को स्नान के दौरान डूबी बच्ची का शव तकरीबन 20 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद एनडीआरएफ की टीम ने ख़ोज कर स्थानीय पुलिस को सुपुर्द कर दिया।

- Advertisement -

वहीं शव मिलने के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। हर कोई इस हादसे को लेकर हतोत्साहित था, घर का चिराग जलाने वाले मासूम बच्ची के साथ हुए इस दर्दनाक हादसे को लेकर पूरे गांव में मातम का माहौल छा गया।

मालूम हो कि बीते रविवार की दोपहर मटकुरिया गांव समीप बघला नदी में मृतक बच्ची अविदा खातून ने पाट छुड़ा रहीं अपनी माँ सुवेधा खातून को खाना पहुचाने गई थी। खाना देने देने के बाद, वहीं अन्य बच्चें के साथ नदी में स्नान करने चली गई थी। इसी क्रम में बच्ची गहरे पानी में जाने के बाद डूबने लगी। पानी में डूब रही बच्ची पर उनकी मां की नजर पड़ी, वह शोर मचाने लगी लेकिन सफलता नहीं मिल सकी और अबिदा गहरे पानी में धीरे-धीरे चली गई।


सूचना मिलते ही रविवार करीब पांच बजे एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और नदी में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया। करीबन 20 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद एनडीआरएफ की टीम ने घटनास्थल से करीब 15 किलोमीटर की दूरी से बच्ची का शव बरामद किया। वहीं बच्ची के शव मिलने के बाद एनडीआरएफ की टीम ने स्थानीय पुलिस को सुपुर्द किया, जिसके बाद कोहराम मच गया।

एनडीआरएफ के इंस्पेक्टर विपन ने बताया कि जवानों ने 20 घण्टे के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद घटनास्थल से 15 किलोमीटर की दूरी पर जलकुंभी में फसी बच्ची का शव बरामद कर, शव को स्थानीय पुलिस को सुपुर्द कर दिया है।

- Advertisement -