सुपौल : पनोरमा पब्लिक स्कूल, रामपुर, छातापुर के CEO ने स्कूल में मिलने वाली सुविधा की दी जानकारी।

0
444
- Advertisement -

सोनू/अक्षय

कोसी की आस@छातापुर,सुपौल।

- Advertisement -

जिले के छातापुर प्रखंड के रामपुर पंचायत के सिद्दीकी चौक के समीप निर्माणाधीन पनोरमा हॉस्पिटल परिसर में पनोरमा पब्लिक स्कूल के सीईओ ने प्रेसवार्ता आयोजित की। सीईओ ए एन ठाकुर ने पत्रकारों को जानकारी देते बताया कि पनोरमा पब्लिक स्कूल रामपुर का विधिवत उद्घाटन आगामी 25 मार्च को किया जाएगा। स्कूल में रजिस्टेसन का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। इस स्कूल में प्री नर्सरी से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई होनी है। प्रथम चरण में प्री नर्सरी से लेकर कक्षा सात तक के लिए बच्चों का नमांकन लिया जा रहा है, जिसके बाद उतीर्णता के साथ प्रत्येक वर्ष एक-एक कक्षा को बढ़ाया जाएगा।

आगे जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय के उदेश्य पर पनोरमा पब्लिक स्कूल की स्थापना की जा रही है। जो सीबीएसई दिल्ली से मान्यता प्राप्त है और माध्यम पुर्ण रूप से अंग्रेजी होगा। स्कूल की स्थापना का मकसद कोई व्यावसायिक उदेश्य नहीं है। बल्कि निर्देशक संजीव कुमार झा की सोच यह है कि इस इलाके के बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान करने के साथ उसका बहुमूखी विकास करना।

आगे जानकारी दी गई कि स्कूल में अत्याधुनिक सुविधा व संसाधन उपलब्ध की जाएगी। इसके साथ ही स्मार्ट क्लास, पुस्तकालय, प्रयोगशाला, कंप्यूटर लैब, संगीत व नृत्य कक्ष,स्कूल लाने और पहूंचाने के लिए बस व वैन तथा नियमित योगाभ्यास व ध्यान सहित आवश्यक सभी महत्वपूर्ण सुविधाओं की व्यवस्था किया जाना है। स्कूल का मुलमंत्र बच्चों को शिक्षित बनाने के साथ साथ उसमें संस्कार और समर्पन की भावना को जागृत करना है। जिससे कि आज का बच्चा देश के लिए कल का ईमानदार नागरिक बन सके और सुंदर समाज का निर्माण हो सके। बताया कि स्कूल में सभी शिक्षकों की नियुक्ति उसके गुणवत्ता के आधार पर की जाएगी। शिक्षक अभ्यर्थियों को कई चरणों में जांचा और परखा जाएगा। स्कूल का प्रबंधन अन्य स्कूलों से अलग होगा। यहाँ रीएडमीशन जैसा कोई प्रावधान नहीं है। उन्होंने कहा कि आजकल स्कूलों में वगोंन्ति के बाद पुनः नामांकन का प्रावधान करके अभिभावकों का आर्थिक क्षति पहुंचाया जा रहा है। लेकिन उनके स्कूल में प्रथम बार के ही नामांकन शुल्क देना होगा साथ ही विधवा के बच्चों को स्कूल में निःशुल्क शिक्षा प्रदान की जाएगी। उनके  बच्चों के लिए पांच सीट रिजर्व रहेगा। जिसका सारा खर्च स्कूल प्रबंधन वहन करेंगे। नामांकन के समय देय कुल राशि में एससी एसटी छात्रों के लिए 50 प्रतिशत की छूट रहेगी। इसके अलावे ओबीसी तथा गरीबी रेखा से नीचे के छात्रों को को 25 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। मासिक ट्यूशन फी में बेटियों को 25 प्रतिशत छूट का लाभ मिलेगा।

उन्होंने कहा कि उनकी स्कूल बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की सफलता पर भी कार्य करने को संकल्पित है।स्कूल स्थापना की शुरूआत साल 2018 में की गई थी, जिसके सीएमडी संजीव कुमार मिश्रा हैं। जिनका एक ही सपना है कि सुदूर इलाके के भी बच्चे बेहतर शिक्षा सरल विधि से उपलब्ध कर सके। उनकी एक ही दिली इच्छा है कि सब पढ़े सब पढ़े इसी के तर्ज पर उन्होंने स्कूल की स्थापना की है। मौके पर पनोरमा पब्लिक स्कूल रामपुर के मुख्य समन्वयक तौसिफ हसन, सोनू झा , मो. राजु खान, पुष्पराज कुमार मोंटी, गुलजारी मिश्र, काली झा, धनंजय मिश्र, मो. नुरूल्लाह, रवि कांत झा आदि मौजूद थे।

- Advertisement -