सुपौल : तेज रफ्तार ट्रक ने एक 50 वर्षीय व्यक्ति को कुचला।

0
300
- Advertisement -

 

सोनू आलम
कोसी की आस @ सुपौल

- Advertisement -

सुपौल जिले के भीमपुर थाना क्षेत्र में शनिवार सुबह लगभग साढ़े 6 बजे थाना से महज पांच सौ मीटर पश्चिम एनएच 57 पर केले से लदे एक अनियंत्रित ट्रक ने 50 वर्षीय मजदूर को कुचलने के बाद गड्ढे में जा गिरा। जिससे मृतक रामफल साह की मौत मौके पर ही हो गई। वहीं ठोकर से मृतक की पत्नी लाखो देवी भी घायल हो गई। इस बीच मौका पाकर चालक फरार हो गया, भाग रहे खालसी को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया ।

घटना से आक्रोशित लोगों ने एनएच 57 को जाम करते हुये मुआवजे की मांग करने लगे, लेकिन थाना को सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद रवि दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को समझाने का प्रयास किया गया, लेकिन लोग नहीं मान रहे थे। स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं समाजसेवी के द्वारा समझाने-बुझाने पर लगभग एक घंटे बाद जाम समाप्त हुआ।

इधर, घटना की सूचना मिलते ही छातापुर सीओ और बीडीओ भी घटनास्थल पर पहुंचकर पीड़ित परिजनों से मिलकर 20 हजार का चेक मुआवजे के रूप में देने का आश्वासन दिया। साथ ही पंचायत के मुखिया बीरेंद्र दास के द्वारा कबीर अंत्येष्ठि के लिए तत्काल 3 हजार रुपया पीड़ित परिजनों को दिया गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार भीमपुर वार्ड 8 के निवासी रामफल साह अपने पत्नी के साथ खेत जा रहे थे। उसी क्रम में फारबिसगंज की ओर से आ रही तेज रफ्तार की ट्रक यूपी 61 टी 2784 अनियंत्रित होकर एनएच के बगल से पश्चिम दिशा से जा रहे रामफल साह को अपने चपेट में लिया और कुचलते हुए गढ्ढे में जा गिरी, जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। इधर, आसपास के लोग जब तक वहाँ पहुंचते तब तक मौका पाकर चालक घटनास्थल से फरार हो गया। खालसी को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया । मृतक बाहर मजदूरी कर घर चलाता है जबकि उसकी पत्नी भीमपुर चौक पर सब्जी बेचने का काम करती है। वहीं मृतक को पांच पुत्र और एक पुत्री है। परिजनों का रो-रो कर हाल बेहाल है। इस बाबत छातापुर सीओ सुमित कुमार ने बताया कि मृतक के परिजनों को सरकारी प्रावधान के अनुसार उचित मुआवजे दिया जाएगा। वहीं इस संदर्भ में भीमपुर थानाध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद रवि ने बताया कि ट्रक अनियंत्रित होने के चलते दुर्घटना घटी, जिससे रामफल साह की मौत हो गई। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम में भेज दिया गया है। जिसके बाद शव को उसके परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि भीमपुर पुलिस द्वारा ट्रक चालकों से अवैध वसूली की जाती है, इसलिए ट्रक चालक भीमपुर में तेजरफ्तार से ट्रक चला भागने की कोशिश करता है और इसका खमियाजा आमलोगों को भुगतना पड़ता है। इसलिए आये दिन यहाँ बराबर घटना होती रहती है।

- Advertisement -