त्रिवेणीगंज: गाँव की हरियाली और किसान परिवार की खुशहाली के बिना राष्ट्र संपन्न नहीं हो सकता:डॉ अमन कुमार

0
40
- Advertisement -

भगवान के बाद धरती पर कोई विधाता है तो वह किसान है। किसान धरती माता का सच्चा सपूत है। कृषि देश की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार है। किसानों के द्वारा अच्छी खेती करने पर ही देश विकसित राष्ट्र बनेगा। गाँव की हरियाली और किसान परिवार की खुशहाली के बिना राष्ट्र संपन्न नहीं हो सकता।

ये बातें सोमवार को कृषि विभाग के सौजन्य से त्रिवेणीगंज प्रखंड अंर्तगत कोरियापट्टी पश्चिम पंचायत में आयोजित किसान जनचेतना कार्यक्रम में बिहार राज्य किसान सलाहकार संघ के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अमन कुमार ने कहीं। ईस दौरान सामाजिक दूरी का भी ख्याल रखा गया। वहीं डॉ अमन ने कहा कि भारत की आत्मा किसान है। जो गाँव में निवास करती है। वे अपने श्रम से संसार का पेट भरते हैं।

- Advertisement -

जिसमें प्रकृति और विषम परिस्थिति से जूझने कि आपार क्षमता विद्धमान है। उन्होंने कहा कि कोरोना को हल्के में लेना जानलेवा साबित हो सकता है। सतर्कता, स्वच्छता, सामाजिक दूरी और सरकार के दिशा -निर्देशो का शत प्रतिशत पालन अतिआवश्यक है। कृषि विभाग के सभी अनुदानित योजनाओं के लाभ के लिए आधार संख्या अनिवार्य है। कुछ किसान के आवेदन सत्यापित होने के वावजूद भी आवेदन में आवेदक का नाम और बैंक खाता में आवेदक का नाम भिन्न होने के कारण पी.एम. किसान योजना कि राशि नहीं मिली है।

वे किसान अपने बैंक शाखा में जाकर अपना नाम आधार और आवेदन में दिये गए नाम के अनुरूप करवा ले। आई.एफ.एस.सी. कोड, बैंक खाता संख्या और गाँव के नाम में सुधार के लिए आधार सत्यापन जरुरी है। आधार सत्यापन हेतु किसान अपने निकटतम कॉमन सर्विस सेंटर या वसुधा केन्द्र से संपर्क करे। अभी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, जल-जीवन-हरियाली, प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना, कृषि यांत्रिकरण योजना, अनुदानित दर पर बीज के लिए ऑनलाईन आवेदन कर योजनाओं का लाभ ले सकते हैं।

जनचेतना के इस कार्यक्रम में पैक्स अध्यक्ष जयप्रकाश यादव,गिरधारी यादव, राजीव कुमार, विमल यादव, रूपेश कुमार, घनश्याम यादव, रामानंद यादव, उपेन्द्र यादव, सुरेन्द्र यादव, सीताराम यादव, धनराज मेहता, मो.जलील आलम आदि शामिल थे।

एन के सुशील
कोशी की आस@सुपौल

- Advertisement -