DRDO का नया कीर्तिमान, एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया

0
442
- Advertisement -

अभी-अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नाम अपने संबोधन में भारत के अंतरिक्ष में चौथी महाशक्ति बनने की घोषणा की। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”कुछ ही समय पूर्व भारत ने अंतरिक्ष में चौथी महाशक्ति बनने की एक अभूतपूर्व सिद्धि हासिल की है”, भारत ने अपना नाम अंतरिक्ष के चौथे महाशक्ति के रूप में दर्ज करा दिया। दुनिया के तीन देश अमरीका, रूस, चीन को ही अब तक यह उपलब्धि हासिल थी। अब इस पंक्ति में भारत भी शामिल हो गया। अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर दूर लो अर्थ ऑर्बिट (एलइओ) सेटलाइट को DRDO ने मार गिराया है। यह एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था और इसे महज़ तीन मिनट के भीतर हासिल किया गया। इस मिशन का नाम “शक्ति” था जिसे  प्रधानमंत्री मोदी के अनुसार काफी कठिन था और भारत ने अपने  DRDO के प्रतिभावन वैज्ञानिकों की मदद से  हासिल किया। हम इस मिशन में शामिल सभी अपने वैज्ञानिकों बधाई देते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज अंतरिक्ष हमारे जीवन शैली का अहम हिस्सा बन गया है। आज हमारे पास अलग-अलग प्रकार के उपग्रह हैं और ये देश के विकास में अलग-अलग तरीके से योगदान दे रहे हैं।

- Advertisement -

“शक्ति मिशन” को DRDO के वैज्ञानिकों ने अंजाम दिया है और मोदी ने इसके लिए DRDO के वैज्ञानिकों को बधाई दी है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इस उपलब्धि से भारत को प्रतिरोधक क्षमता मिल गई है। अगर भारत के सेटलाइट को कोई नष्ट करता है, तो भारत भी उसे नष्ट करने में सक्षम हो गया है।

इससे पहले आज तरके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट में बताया था कि वो देश को संबोधित करते हुए एक महत्वपूर्ण संदेश देंगे। प्रधानमंत्री ने 11: 45 से 12 बजे के बीच संबोधन की बात कही थी, पूरे देश की निगाह टिकी थी कि आखिर क्या घोषणा करने वाले हैं प्रधानमंत्री, लेकिन प्रधानमंत्री के संबोधन में थोड़ी देरी हुई।

कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि हमारे DRDO के वैज्ञानिकों ने एक बार फिर से भारत को आज गौरवान्वित किया है।

 

इमेज कॉपीरइट google image

 

- Advertisement -