UGC ने जारी किया नया एकेडमिक कैलेंडर, तीन की जगह दो घंटे में परीक्षा कराने का सुझाव, छात्रों को राहत

0
138
- Advertisement -

Covid:19 की वजह से Economy Sector के बाद कोई सेक्टर है जो सबसे अधिक प्रभावित है वह है Education Sector। शैक्षणिक संस्थानों को लेकर सरकार भी परेशान हैं साथ साथ छात्रों के माता पिता तो उनके केरियर को लेकर चिंतित हैं ही। UGC ने आगामी सत्र का एकेडमिक कैलेंडर जारी कर दिया है। शायद इससे छात्रों की परेशानी कुछ कम हो।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने सत्र-2020-21 का एकेडमिक कैलेंडर जारी कर दिया है। साथ ही UGC ने बीते साल अधूरे सत्र-2019-20 के लिए भी दिशा-निर्देश जारी किया है। इसके तहत अधूरे सत्र में विभिन्न तकनीकी माध्यमों से 31 मई तक पाठ्यक्रम की समाप्ति कर एक से 15 जून तक आंतरिक परीक्षण का कार्य कराने को कहा है। साथ ही इस निर्देश के तहत ग्रीष्मावकाश(Summer Vacation)16 से 30 जून और परीक्षाएं जुलाई में होंगी।

- Advertisement -

आयोग ने बची हुई प्रायोगिक और मौखिकी परीक्षाओं को स्काइप या अन्य वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से कराने का सुझाव दिया है। बची हुई परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड के साथ-साथ समय सीमा तीन से घटाकर दो घंटे करने का भी सुझाव दिया है। इसके अतिरिक्त एम.फिल और पीएचडी के विद्यार्थियों की मौखिकी परीक्षा वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से कराने का भी निर्देश दिया है।

4276446_UGC-Guidelines-on-Examinations-and-Academic-Calendar

5369929_Letter-regarding-UGC-Guidelines-on-Examinations-and-Academic-Calendar

- Advertisement -